upsc book list in hindi

upsc book list in hindi

UPSC की पढ़ाई में सफलता के लिए हिंदी में किताबों की सूची

यूपीएससी की तैयारी में सफलता प्राप्त करने के लिए, अच्छी पढ़ाई की शुरुआत सही किताबों का चयन करके होती है। यहां हम आपको यूपीएससी की पढ़ाई के लिए सुझावित किताबों की एक सूची प्रदान कर रहे हैं:

1. प्रारंभिक धाराएं

UPSC की तैयारी की शुरुआत में, आपको नींव बनाने के लिए निम्नलिखित किताबों की सिफारिश की जाती है:

2. सामान्य अध्ययन की किताबें

सामान्य अध्ययन के विषय में इन किताबों को पढ़ना उपयुक्त हो सकता है:

  • “भारतीय सामान्य ज्ञान” – जे.सी. आरयन
  • “भूगोल के मौदूद तथा नक्शा अंकन” – सी.एस. दुबे

3. UPSC के लिए  इतिहास की किताबें

UPSC की तैयारी के लिए इतिहास से संबंधित किताबों की सूची निम्नलिखित है:

4. भूगोल की किताबें

UPSC की तैयारी के लिए भूगोल से संबंधित इन किताबों का अध्ययन करें:

5. राजनीति और अर्थशास्त्र की किताबें

राजनीति और अर्थशास्त्र के विषय में इन किताबों का मुख्य रूप से उपयोग करें:

6. सामान्य विज्ञान की किताबें

सामान्य विज्ञान की तैयारी के लिए इन किताबों को शामिल करें:

  • “विज्ञान सामान्य अध्ययन” – Rakesh Saraswat 
  • “सामान्य विज्ञान का सर्वोत्तम” – Drishti Publications

7. आत्म-मूल्यांकन और मॉक टेस्ट

यूपीएससी की तैयारी में सफलता प्राप्त करने के लिए आत्म-मूल्यांकन और मॉक टेस्ट के लिए इन सामग्रियों का उपयोग करें:

  • “स्व-अध्ययन के लिए सामान्य अध्ययन” – नीतु सिंह
  • “यूपीएससी परीक्षा के लिए मॉक टेस्ट पेपर्स” – अरुण शर्मा

8. चर्चा और समीक्षा

यूपीएससी की तैयारी के लिए चर्चा और समीक्षा का महत्वपूर्ण हिस्सा है। यहां कुछ महत्वपूर्ण सामग्री है जिसे आप इस चरण में शामिल कर सकते हैं:

  • “यूपीएससी के सोल्व्ड पेपर्स” – राजीव यादव
  • “यूपीएससी की सामान्य अध्ययन सीरीज” –एम. लक्ष्मीकांत

9. संपूर्णता और निर्देशिका

तैयारी की संपूर्णता के दिशा-निर्देशिका के लिए इन पुस्तकों का सहारा लें:

  • “संपूर्णता की सीख” – आनंद सागर
  • “निर्देशिका” – रणजीत शर्मा

10. चर्चा और समीक्षा

यूपीएससी की तैयारी में चर्चा और समीक्षा का महत्वपूर्ण योगदान है। इन पुस्तकों के माध्यम से आप अपनी तैयारी को समझ सकते हैं और किस विषय में कितनी माहिती है, इसे आंकलन कर सकते हैं।

11. समापन

इस यूपीएससी की पढ़ाई में सफलता की यात्रा में समापन करते हुए, आपको यह याद रखना चाहिए कि सफलता का सिर्फ एक ही रास्ता है, और वह है मेहनत और सही दिशा में योजना बनाए रखना। यूपीएससी की तैयारी में सफल होने के लिए आत्म-विश्वास और संघर्षशीलता भी आवश्यक हैं। यूपीएससी की तैयारी में सफलता प्राप्त करने के लिए सही किताबों का चयन करना महत्वपूर्ण है। सटीक योजना बनाएं, अध्ययन करें, और नियमित आत्म-मूल्यांकन के माध्यम से अपनी तैयारी को मजबूत करें। एक सफल यूपीएससी की तैयारी के बाद, आप निश्चित रूप से अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए तैयार होंगे।

पूछे जाने वाले प्रश्न 

12.1 यूपीएससी की तैयारी में सफलता प्राप्त करने के लिए कितने समय बाद परिणाम देखा जा सकता है?

सफल यूपीएससी की तैयारी के बाद परिणाम दिखने में समय की अवधि विचार करें। यह निर्भर कर सकता है कि आपने किस स्तर की तैयारी की है और कौन-कौन से स्तर की परीक्षा की जा रही है।

12.2 सफलता प्राप्त करने के लिए आत्म-मूल्यांकन क्यों महत्वपूर्ण है?

यूपीएससी की तैयारी में आत्म-मूल्यांकन का महत्व और इसके फायदे पर विचार करें। स्वयं को अच्छी तरह से मूल्यांकित करने से आप अपनी कमजोरियों पर काम कर सकते हैं और सफलता की दिशा में अग्रगति कर सकते हैं।

12.3 कौन-कौन सी किताबें आत्म-मूल्यांकन के लिए सबसे उपयुक्त हैं?

यूपीएससी की तैयारी में आत्म-मूल्यांकन के लिए सुझावित किताबों की सूची प्रस्तुत करें। इन्हें पढ़कर आप अपनी तैयारी को सही दिशा में बढ़ा सकते हैं।

12.4 यूपीएससी की तैयारी में कैसे मास्टर बना जा सकता है?

यूपीएससी की तैयारी में मास्टर बनने के लिए कुछ उपयुक्त सुझाव प्रस्तुत करें। इसमें निरंतर सीखना और सुधारना शामिल है, जिससे आप अपनी कमजोरियों को देखकर सुधार सकते हैं।

12.5 क्या हैं सफल छात्रों की सामान्य धाराएं जो यूपीएससी की तैयारी के दौरान अपनाते हैं?

सफल यूपीएससी छात्रों की सामान्य धाराएं और उनकी विशेषताएं पर चर्चा करें। इन्हें अपनी तैयारी में शामिल करने से आप भी उनसे सीख सकते हैं और अपनी तैयारी को बेहतर बना सकते हैं।

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *